ROJGARDARPAN

Education Blogger

गंगा नदी कहां से निकलती है
भारत का भूगोल भूगोल

गंगा नदी कहां से निकलती है

Table of Contents

गंगा नदी कहां से निकलती है, उद्गम स्थल, कितने राज्यों से होकर प्रवाहित होना, सहायक नदियाँ।

गंगा नदी कहां से निकलती है

गंगा नदी भारत की सबसे पवित्र नदी है । इस नदी को हम सब देवी के रूप में मानते है , काफी मात्रा में तीर्थ स्थल इस नदी किनारे स्थित है । मिथकों का मानना है, की राजा भगीरथ ( ईक्षवाक वंश के सम्राट दिलीप पुत्र ) ने गंगा को पृथ्वी पर अवतरित किया है । गंगा नदी भारत की राष्ट्रीय नदी गंगा जल न होकर यह भारत देश और हिन्दी साहित्य के मानवीय चेतना को जागृति करती है ।

  • भारत में गंगा नदी तंत्र सबसे बड़ा नदी तंत्र है ।
  • भारत में इस नदी का सबसे बड़ा जल ग्रहण क्षेत्र है ।
  • यह नदी भारत और बांगलादेश दो देशों से होकर प्रवाहित होती है ।

गंगा नदी कहां से निकलती है-:

गंगा नदी कहां से निकलती है

  • गंगा नदी का उद्गम स्थल गंगोत्री है ।
  • गंगा नदी का निर्माण उत्तराखंड में दो धाराओं के जुडने से होता है –
  • पहली धारा – भागीरथी, जो उत्तरकाशी जिले के गोमुख ग्लेशियर से निकलती है ।
  • दूसरी धारा – अलकनंदा ,जो सतोपथ ग्लेशियर से निकलती है ।
  • भागीरथी और अलकनंदा नदिया देव प्रयाग में मिलकर गंगा नदी का जन्म होता है ।

अलकनंदा नदी -:

  • अलकनंदा नदी का निर्माण दो धाराओं के मिलने से होता है ,धौलीगंगा और विष्णु गंगा ये दोनों धाराएं सतोपथ ग्लेशियर से निकलती है ।
  • धौलीगंगा और विष्णुगंगा विष्णु प्रयाग में दोनों नदियों के संयुक्त मिलने से अलकनंदा नदी का जन्म होता है ,जिसे अलकनंदा नदी कहा जाता है ।
  • अलकनंदा नदी से आगे पिंडार नदी कर्ण प्रयाग में मिलती है ।
  • कर्ण प्रयाग के आगे रुद्र प्रयाग में मंदाकिनी नदी आकर मिलती है ।
  • रुद्र प्रयाग के आगे देव प्रयाग में आकर भागीरथी नदी अलकनंदा नदी से मिलती है ।
  • अलकनंदा नदी और भागीरथी नदी के संयुक्त धारा के मिलने से गंगा नदी का जन्म होता है ,और गंगा नदी कहलाती है ।

गंगा नदी कहां से निकलती है,से संबंधित प्रमुख  तथ्य -;

  • गंगा नदी सर्व प्रथम हरिद्वार में पर्वतीय मैदान से निकलकर हरिद्वार के मैदान में प्रवाहित होती है ।
  • पश्चिम बंगाल में में यह नदी दो धाराओं हुगली और भागीरथी में विभक्त हो जाती है ।
  • भागीरथी नदी बांग्लादेश में प्रवेश करते हुए और हुगली नदी पश्चिम बंगाल में प्रवेश करती करते हुए बंगाल की खाड़ी में गिर जाती है ।
  • गंगा नदी की मुख्य धारा जब बांग्लादेश में पहुँच कर जब ब्रह्मपुत्र नदी से मिलती है तो पदमा नदी कहलाती है ।
  • बांग्लादेश में जब गंगा नदी बराक नदी से मिलती है तो मेघना नाड़ी कहलाती है ।
  • गंगा नदी जब पश्चिम बंगाल में प्रवेश करने पर यह दो धाराओं में बँट जाती है ,भागीरथी और हुगली ,परंतु ब्रह्मपुत्र नदी को बांग्लादेश मे जमुना नदी कहा जाता है ,इस प्रकार जमुना नदी और भागीरथी नदी के संयुक्त धारा को पदमा नदी भी कहा जाता है ।
  • गंगा नदी और ब्रह्मपुत्र नदी का डेल्टा विश्व में सबसे बड़ा डेल्टा है ,इसमें सुंदरी नामक वृक्ष पाए जाते है ,इसलीय इसे सुंदर वन डेल्टा भी कहा जाता है ।
  • सुंदर वन डेल्टा का विस्तार हुगली नदी और मेघना नदी के बीच तक है ।
  • सुंदर वन का डेल्टा मैनग्रोव वनों के लिए जाना जाता है ।

हुगली नदी -:

  • जब गंगा नदी पश्चिम बंगाल में प्रवेश करती है ,तो दो धाराओं में बँट जाती है , हुगली और भागीरथी । तो इस प्रकार हुगली नदी का जन्म होता है ।
  • छोटानागपुर पठार के बीचों-बीच भ्रंश घाटी में भने वाली दामोदर नदी पूर्व में बहते हुए हुगली नदी से मिल जाती है ।
  • कोलकाता हुगली नदी के तट पर बसा है ।
  • इसी तट पर कोलकाता बंदरगाह है ,जिसे :पूर्व का लंदन “ भी कहा जाता है ।

शारदा नदी या सरयू नदी -:

  • यह नदी नेपाल हिमालय में मिलाम हिमानी से इसका जन्म होता है ।
  • शुरुवात में इस नदी को गौरी गंगा कहा जाता है ।
  • भारत नेपाल सीमा पर इसे कोसी नदी कहा जाता है
  • उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में यह जब घाघरा से मिलती है ,तो इसे चौक कहा जाता है ।

गंगा नदी की सहायक नदियाँ -:

गंगा नदी कहां से निकलती है

गंगा नदी की सहायक नदियों को दो भागों में विभक्त किया जाता है –

  • प्रथम भाग -: गंगा नदी के बाएं तरफ से आने वाली नदियाँ
  • द्वितीय भाग -:गंगा नदी के दायें तरफ से आने वाली नदियाँ

प्रथम भाग – बाएं तट पर मिलने वाली सहायक नदीयां

 राम गंगा नदी -:

  • यह नदी गढ़वाल के पहाड़ियों के हिमनद से उद्गम होता है ।
  • इस नदी का उद्गम हिमनद से होने के कारण इसमें वर्षा ऋतु और शुष्क ऋतु में जल किमात्र का बहुत अंतर होता है ।
  • रामगंगा नदी कन्नौज के गंगा नदी से मिल जती है ।
  • यह नदी 600 किमी. लंबी है ,और इसका अफवाह क्षेत्र 32,800 वर्ग किमी. है । \

गंडक नदी -:

  • गंडक नदी का उद्गम स्थल धौलगिरी तथा एवरेस्ट पर्वत के मध्य नेपाल से निकलती है ।
  • यह बिहार के चंपारण जिले में गंगा के मैदान में प्रवेश करती है ।
  • गंडक नदी पटना के पास सोनपुर में गंगा से मिलजाती है ।
  • यह नदी मार्ग अपने मार्ग परिवर्तन के लिए प्रसिद्ध है ।
  • इस नदी की कुल लंबाई 425 किमी. है ।
  • भारत में इस नदी का अफवाह क्षेत्र 9,540 वर्ग किमी . है ।
  • गंडक नदी को नेपाल में शालीगराम या नारायणी कहा जाता है ।

कोसी नदी -:

  • कोसी नदी की मुख्य धारा अरुण ,एवरेस्ट पर्वत के उत्तर में तिब्बत से निकलती है ।
  • यह नदी मध्य हिमालय (नेपाल ) को पार करने के बाद पश्चिम की तरफ से सुनकोसी आकर मिल जाती है ,और पूर्व की तरफ से तमूर कोसी आकर मिल जाती है ।
  • अरुण से मिलने के बाद यह सुप्त कोसी बन जाती है ।
  • कोसी नदी 730 किमी. लंबी है ।
  • भारत में इसका अफवाह क्षेत्र 21,500 वर्ग किमी . है ।
  • कोसी नदी अपना रास्ता बदलने के लिए विख्यात है , क्योंकि नेपाल में हिमालय पर्वत को काटकर बहुत सारी मिट्टी और अवसाद को अपने साथ बहाकर लाती है ,जिससे यह विहार में अपना रस्ता स्वतः अवरुद्ध कर लेती है ,जिस कारण इसे विहार का शोक कहा जाता है ।

महानंदा नदी -:

  • इस नदी का उद्गम स्थल दार्जलिङ्ग के पहाड़ियों से होता है।
  • महानंदा नदी विहार और पश्चिम बंगाल की सीमा पर प्रवाहित होती है।
  • भारत में यह नदी गंगा के बाएं तट की अंतिम सहायक नदी है।
  • महानंदा नदी बाएं तट पर मिलने वाली सबसे पूर्वी या अंतिम सहायक नदी है।

गोमती नदी-:

  • गोमती नदी गंगा नदी की एक मात्र सहायक नदी है जो हिमालय से न निकलकर मैदानी क्षेत्र से निकलती है।
  • गोमती नदी का उद्गम स्थल उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले के मैदान में फुलहर झील से है।
  • लखनऊ और जौनपुर शहर गोमती नदी के तट पर स्थित है।

द्वितीय भाग-: गंगा नदी के दायें तरफ से आने वाली प्रमुख सहायक नदियाँ।

  • गंगा के दाईं तट पर आने वाली नदियां मुख्य रूप से प्रायद्वीप पठार की नदियां है।
  • यमुना एक मात्र हिमालयी सहायक नदी है, जो गंगा के दायें तरफ आकर मिलती है।

यमुना नदी-:

  • यमुना नदी गंगा की सबसे सहायक लंबी नदी है।
  • यमुना नदी उत्तराखंड की बंदरपूछ छोटी पर यमुनोत्री ग्लेशियर से निकलती है। और उत्तर प्रदेश के प्रयाग में आकर मिलती है।
  • यमुना नदी प्रयद्वीपीय गोदावरी नदी से छोटी है।
  • यमुना नदी की लंबाई 1365 किमी है।
  • जबकि चम्बल,सिंधु,बेतवा,केन,नदी गंगा की सहायक नदी है, परंतु ये अपना जल सीधे गंगा में न गिराकर यमुना नदी में गिराती है।
  • ये चारों नदियां प्रयद्वीपीय पठार के मालवा पठार से निकलती है।

टोंस एवं सन नदी-:

  • टोंस एवं सन नदी प्रायद्वीपीय पठार से निकलकर अपना जल सीधे गंगा नदी में गिराती है।
  • टोंस नदी प्रायग जिले में गंगा नदी से मिलती है।
  • सोन नदी मैकाल पहाड़ी के अमरकंटक छोटी से निकलकर विहार के पटना जिले के समीप गंगा नदी से मिलती है।

आप इसे भी पढ़ें-:

Motions of the earth|पृथ्वी की गतियां

Solar system in hindi

[ वर्णमाला ] किसे कहते है ?

गौतम बुद्ध का जीवन परिचय

[मिस यूनिवर्स 2021] हरनाज कौर संधू का जीवन परिचय

Q. गंगा नदी किन राज्यों में बहती है ?

A. गंगा भारत देश में उत्तराखंड,उत्तर प्रदेश, बिहार , झारखंड एवं पश्चिम बंगाल से होकर बहती है ।

Q. गंगा कहां से निलती है ?

गंगा नदी कहां से निकलती है

A. गंगा नदी उत्तराखंड राज्य के गंगोत्री से निकलती है ।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *